Best whatsapp status in Hindi on life

Hindi being our national language, definitely deserves a unique day to be celebrated. So respecting our national language, today is when celebrate Hindi Diwas.

So even with our whatsapp status, we can show our gratitude for the national lauguage. We have picked up and listed a few quotes in hindi for the Hindi Diwas.

Best whatsapp status in Hindi on life

Have a look at our collection for the best Best whatsapp status in Hindi on life.

Best whatsapp status in Hindi on life

1. शिखर तक पहुँचने के लिए ताकत चाहिए होती है, चाहे वो माउन्ट एवरेस्ट का शिखर हो या आपके पेशे का.

2. क्या हम यह नहीं जानते कि आत्म सम्मान आत्म निर्भरता के साथ आता है ?

3. कृत्रिम सुख की बजाये ठोस उपलब्धियों के पीछे समर्पित रहिये.

4.  मैं हमेशा इस बात को स्वीकार करने के लिए तैयार था कि मैं कुछ चीजें नहीं बदल सकता.

5. महान सपने देखने वालों के महान सपने हमेशा पूरे होते हैं.

6. इंसान को कठिनाइयों की आवश्यकता होती है, क्योंकि सफलता का आनंद उठाने कि लिए ये ज़रूरी हैं.

7. किसी भी धर्म में किसी धर्म को बनाए रखने और बढाने के लिए दूसरों को मारना नहीं बताया गया.

8. अपने मिशन में कामयाब होने के लिए , आपको अपने लक्ष्य के प्रति एकचित्त निष्ठावान होना पड़ेगा.

9. इससे पहले कि सपने सच हों आपको सपने देखने होंगे .

10. बड़ा  सोचो , जल्दी  सोअचो , आगे  सोचो . विचारों  पर  किसी  का  एकाधिकार  नहीं  है .

11. :हम  अपने  शाशकों  को  नहीं  बदल  सकते  पर  जिस  तरह  वो  हम  पे  शाशन  करते  हैं  उसे  बदल  सकते  हैं .

12. फायदा  कमाने  के  लिए  न्योते  की  ज़रुरत  नहीं  होती .

13. यदि  आप  दृढ  संकल्प  और  पूर्णता  के  साथ  काम  करेंगे  तो  सफलता  ज़रूर  मिलेगी.

14. कठिन  समय  में  भी  अपने  लक्ष्य  को  मत  छोड़िये  और  विपत्ति  को  अवसर  में  बदलिए .

15. यह एक रणक्षेत्र है, मेरा शरीर, जिसने बहुत कुछ सहा है.

16. मैं कभी भी अपने कैरियर को लेकर आश्वस्त नहीं रहा हूँ.

17. :ऐसी बहुत सी चीजें हैं जो मुझे लगता है कि मैंने कई चीजें मिस कर दी हैं.

18.  हर किसी को स्वीकार करना चाहिए कि हमारी उम्र बढ़ेगी और उम्र का बढ़ना हमेशा प्रशंशापूर्ण नहीं होता.

19. सही  बात  को  सही  वक़्त  पे  किया  जाये  तो  उसका  मज़ा  ही  कुछ  और  है , और  मैं  सही  वक़्त  का  इंतज़ार  करता  हूँ .

20. बुरा जो देखन मैं चला, बुरा न मिलिया कोय,
जो दिल खोजा आपना, मुझसे बुरा न कोय।

21. पोथी पढ़ि पढ़ि जग मुआ, पंडित भया न कोय,
ढाई आखर प्रेम का, पढ़े सो पंडित होय।

22. साधु ऐसा चाहिए, जैसा सूप सुभाय,
सार-सार को गहि रहै, थोथा देई उड़ाय।

23. तिनका कबहुँ ना निन्दिये, जो पाँवन तर होय,
कबहुँ उड़ी आँखिन पड़े, तो पीर घनेरी होय।

24. धीरे-धीरे रे मना, धीरे सब कुछ होय,
माली सींचे सौ घड़ा, ॠतु आए फल होय।

25. माला फेरत जुग भया, फिरा न मन का फेर,
कर का मनका डार दे, मन का मनका फेर।

26. जाति न पूछो साधु की, पूछ लीजिये ज्ञान,
मोल करो तरवार का, पड़ा रहन दो म्यान।

27. दोस पराए देखि करि, चला हसन्त हसन्त,
अपने याद न आवई, जिनका आदि न अंत।

28. जिन खोजा तिन पाइया, गहरे पानी पैठ,
मैं बपुरा बूडन डरा, रहा किनारे बैठ।

29. अति का भला न बोलना, अति की भली न चूप,
अति का भला न बरसना, अति की भली न धूप।

30. निंदक नियरे राखिए, ऑंगन कुटी छवाय,
बिन पानी, साबुन बिना, निर्मल करे सुभाय।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *